Thursday , 23 November 2017
Breaking News
Home » Hot on The Web » हिंदी के इन शब्दाें का मतलब ताे ‘Google’ के पास भी नहीं!

हिंदी के इन शब्दाें का मतलब ताे ‘Google’ के पास भी नहीं!

भारत में बहुत से एेसे हिंदी शब्द बाेले जाते हैं, जिनका जवाब दुनिया की किसी भी डिक्शनरी में नहीं। यहां तक कि गूगल जिसके पास हर बात का जवाब है, वह भी इन बाताें के जवाब देने में असमर्थ हैं। एेसे में अगर काेई अाप से इन शब्दाें का जवाब पूछ ले, ताे अाप क्या कहेंगे। शायद अापके पास भी इनका काेई जवाब न हाे, ताे अाज हम अापकाे एेसे ही कुछ शब्दाें का मतलब बताने जा रहे हैं, जिनका पता हाेना जरूरी है।

– मक्खना
मक्खन से लिया गया यह शब्द मक्खना किसी काे तब कहा जाता है, जब काेई बहुत सुंदर या प्यारा हाे। भारत में खासताैर पर पंजाब में इस शब्द का इस्तेमाल किसी चाहने वाले के लिए किया जाता है।

– जुगाड़
यह शब्द अामताैर पर इस्तेमाल किया जाने वाला शब्द है। जब भी काेई काम रूका हाे या मुश्किल हाे, ताे लाेग कहते हैं तू टेंशन न लें मैं काेई जुगाड़ लगाता हूं। इसका मतलब हाेता है कि किसी भी तरीके या अाइडिए से उस काम काे करवाने की काेशिश करना। चाहे फिर वह सही हाे या गलत।

– छिछाेरा
गूगल में ट्रांसलेट करने पर इस शब्द का मतलब अाता है Foppish। यानि अाम भाषा में कहें ताे एेसा शख्स जिसकी इमेज लाेगाें के सामने कुछ खास अच्छी न हाे। जैसा वरूण धवन ने फिल्म ‘मैं तेरा हीराे’ में राेल प्ले किया था, ठीक वैसा ही।

– गुलछर्रे
अापने कई लाेगाें काे अकसर यह शब्द बाेलते हुए सुना हाेगा कि देखाें कैसे गुलछर्रे उड़ा रहा है या उड़ा रही है। इसका मतलब हाेता है Shameful Fun। यानि एेसी मस्ती या काम जाे समाज के लाेगाें काे नागवार गुजरे।

– झंड
डिक्शनरी में झंड शब्द का वैसे काेई अर्थ नहीं है, लेकिन अामताैर पर लाेग इसका तब इस्तेमाल करते हैं, जब वह जिंदगी की मुश्किलाें से परेशान हाे। तब वह कहते है कि यार लाइफ झंड हाे गई है।

– ठुल्लू
ये शब्द ज्यादा फेमस तब हुअा जब कॉमेडी के किंग कपिल शर्मा ने अपने शाे में इसका इस्तेमाल करना शुरु किया। उसके बाद ताे जैसे यह हर दूसरे, तीसरे शख्स की जुबां पर था। इसका मतलब है कि कुछ भी नहीं। यानि अापने बड़ी शिद्दत से काेई काम किया और उसका रिजल्ट कुछ भी नहीं अाया। ताे किसी के पूछने पर अाप जवाब में कहेंगे- बाबा जी का ठुल्लू।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*