Thursday , 18 January 2018
Breaking News
Home » Entertainment » नहीं रहे शशि कपूर

नहीं रहे शशि कपूर

मुंबई। हिंदी फिल्मों के लोकप्रिय अभिनेता शशि कपूर का सोमवार को लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया। वह 79 साल के थे। उन्होंने कोकिलाबेन अस्पताल में अंतिम सांस ली। अपने समय में इंडस्ट्री के सबसे व्यस्ततम अभिनेताओं में शुमार शशि कपूर का जन्म 18 मार्च 1938 को हुआ था। साल 2011 में उनको भारत सरकार ने पद्म भूषण पुरस्कार से सम्मानित किया था। साल 2015 में उनको 2014 के दादासाहेब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।
पृथ्वीराज कपूर के सबसे छोटे बेटे शशि कपूर ने पृथ्वी थिअटर के नाटक ‘शंकुतलाÓ से अपने करियर की शुरूआत की थी। राज कपूर की पहली फिल्म ‘आगÓ और तीसरी फिल्म ‘आवाराÓ में शशि ने अपने बड़े भाई राज कपूर के बचपन की भूमिकाएं निभाई थीं। यश चोपड़ा ने फिल्म ‘धर्मपुत्रÓ के जरिए शशि को इंडस्ट्री में एंट्री कराई थी। शशि कपूर ने अपने करियर में 160 से ज्यादा फिल्मों में अभिनय किया। शशि कपूर का असली नाम बलवीर राज कपूर था।
सदी के महानायक अमिताभ बच्चन के साथ इनकी जोड़ी खूब सराही गई थी। ‘दीवारÓ, ‘सत्यम शिवम सुंदरमÓ, ‘नमक हलालÓ, ‘सुहागÓ और ‘त्रिशूलÓ उनकी सुपरहिट फिल्में रही हैं। फिल्म दीवार में उनका डायलॉग ‘मेरे पास मां हैÓ आज भी लोगों की जुबान पर है।
‘धर्मपुत्रÓ के बाद शशि ने ‘चारदीवारीÓ और ‘प्रेमपत्रÓ जैसी असफल फिल्मों में काम किया था। इसके बाद उनकी ‘मेहंदी लगी मेरे हाथÓ, ‘मोहब्बत इसको कहते हैंÓ, ‘नींद हमारी ख्वाब तुम्हारेÓ, ‘जुआरीÓ, ‘कन्यादानÓ, ‘हसीना मान जाएगीÓ जैसी फिल्में आईं, लेकिन सारी असफल रही।
‘जब-जब फूल खिलेÓ फिल्म के जरिए शशि की कामयाबी का सफर शुरू हुआ। यह फिल्म गोल्डन जुबली साबित हुई थी। शशि ऐसे ऐक्टर थे जिन्होंने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ब्रिटिश और अमेरिकी फिल्मों में काम किया था। इनमें ‘द हाउसहोल्डरÓ, ‘शेक्सपियरवालाÓ, ‘बॉम्बे टॉकीजÓ तथा ‘हिट ऐंड डस्टÓ जैसी फिल्में शामिल हैं
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शशि कपूर के निधन पर शोक जताया है। उन्होंने ट्वीट कर शशि को श्रद्धांजलि दी। (शेष पेज 8 पर)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*