Tuesday , 20 February 2018
Breaking News
Home » Business » ‘समय पूर्व लोस चुनावों की संभावना नहीं’

‘समय पूर्व लोस चुनावों की संभावना नहीं’

नई दिल्ली। देश की राजनीति में इस समय एक नई बहस चल रही है। लोकसभा और विधानसभा के चुनाव एक साथ होने की पैरोकारी करती इस बहस की शुरूआत प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भाजपा ने की लेकिन इसमें दूसरे दलों और एक्सपर्ट्स को समय पूर्व चुनाव की भी आहट नजर आने लगी है। कांग्रेस और दूसरी विपक्षी पार्टियां इस बात की संभावना जाहिर कर रही हैं कि भाजपा समय से पहले विधानसभा चुनावों के साथ ही लोकसभा चुनाव करा सकती है। हालांकि वित्त मंत्री अरूण जेटली इससे इत्तेफाक रखते नहीं दिख रहे हैं।
एक टीवी चैनल से बात करते हुए वित्त मंत्री जेटली ने समय पूर्व चुनावों की संभावना को खारिज किया है। दरअसल मोदी सरकार का कार्यकाल 2019 में खत्म हो रहा है। पिछले दिनों बजट सत्र में राष्ट्रपति के अभिभाषण में लोकसभा और विधानसभा चुनावों को एक साथ कराने को श्रेयस्कर बताया गया था। मोदी भी सदन में दिए गए अपने भाषण में कांग्रेस के खिलाफ एक बार फिर आक्रामक रूख दिखा चुके हैं।
ऐसे में राजनीतिक एक्सपर्ट्स भी इस बात की संभावना जता रहे हैं कि चौंकाने वाली राजनीति के लिए मशहूर मोदी शायद ऐसा कदम उठा लें। कांग्रेस ने स्पष्ट तौर पर ऐसी आशंका जताते हुए यहां तक कह दिया है कि वह चुनाव के लिए तैयार है और मोदी का मुकाबला राहुल गांधी से होगा। हालांकि जब जेटली से यह सवाल पूछा गया तो उन्होंने भी कहा कि तैयार तो हम भी हैं लेकिन ऐसी कोई संभावना (समय पूर्व चुनाव) मुझे नहीं दिखाई दे रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*