Thursday , 21 June 2018
Breaking News
Home » Business » दूसरे बैंकों को पूरे पैसे चुकाए पीएनबी

दूसरे बैंकों को पूरे पैसे चुकाए पीएनबी

आरबीआई ने कहा

मुंबई। अरबपति हीरा कारोबारी नीरव मोदी द्वारा अंजाम दिए गए सबसे बड़े बैंकिंग घोटाले को लेकर रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) ने पंजाब नैशनल बैंक से कहा है कि इस मामले में शामिल दूसरे बैंकों को पूरे 11,300 करोड़ रूपये का भुगतान किया जाए। इस मामले से जुड़े 2 बैंकर्स ने यह जानकारी दी है। उन्होंने बताया कि ऐसा नहीं करने पर वित्तीय बाजार में भूकंप आ जाएगा, क्योंकि बैंकिंग सेक्टर का एक अहम हिस्सा ट्रस्ट फैक्टर है। उन्होंने यह भी बताया कि पीएनबी के पास फंड की कमी है और इसने सरकार से हस्तक्षेप करने की मांग की है।
इस बीच पीएनबी के एमडी सुनील मेहता ने कहा कि फर्जीवाड़े से प्रभावित सारे बैंकों के साथ किए गए कमिटमेंट्स पूरे किए जाएंगे। गौरतलब है कि इस केस में यूनियन बैंक ऑफ इंडिया, इलाहाबाद बैंक और ऐक्सिस बैंक ने पीएनबी द्वारा जारी किए गए लेटर ऑफ अंडरटेकिंग (एलओयू) के आधार पर क्रेडिट की पेशकश की थी।
इस पूरे मामले की जड़ मे लेटर ऑफ अंडरटेकिंग यानी एलओयू शामिल है। यह एक तरह की गारंटी होती है, जिसके आधार पर दूसरे बैंक खातेदार को पैसा मुहैया करा देते हैं। अब यदि खातेदार डिफॉल्ट कर जाता है तो एलओयू मुहैया कराने वाले बैंक की यह जिम्मेदारी होती है कि वह संबंधित बैंक को बकाए का भुगतान करे।
इस मुद्दे पर चर्चा के दौरान बैठक में मौजूद एक बैंकर ने कहा, आरबीआई ने अपना पक्ष साफ कर दिया है कि पीएनबी पर सहयोगी बैंकों के भुगतान का उत्तरदायित्व है। यदि पीएनबी भुगतान नहीं करता है तो पीएनबी के साथ अन्य 30 बैंकों को बड़ा नुकसान होगा। यदि पीएनबी दूसरे बैंकों को भुगतान करता है तो सिर्फ उसका बैलेंस शीट प्रभावित होगा, जबकि दूसरे बैंकों को प्रावधान नहीं करने होंगे।
बैंकर्स को आशंका है कि पीएनबी से भुगतान में देरी होगी और इसलिए वित्त मंत्रालय से हस्तक्षेप की जरूरत है। अन्य बैंकर ने कहा, यदि एक बैंक दूसरे के दावे को पूरा नहीं करता तो सिस्टम कैसे काम करेगा? कथित तौर पर यह भारत का सबसे बड़ा बैंकिंग घोटाला है और बैंक के कर्मचारियों ने नीरव मोदी और उनके मामा मेहुल चौकसी के गीतांजलि गु्रप के लिए गलत तरीके से लेटर ऑफ अंडरटेकिंग (एलओयू)जारी किए। पीएनबी के एलओयू के आधार पर 30 बैंकों ने बिल में छूट दी थी। यह घोटाला 2010 मुंबई के ब्रैडी हाउस ब्रॉन्च में चल रहा था और इसी साल जनवरी में प्रकाश में आया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*