Monday , 19 February 2018
Breaking News
Home » Business » चेहरे से भी हो सकेगा आधार सत्यापन

चेहरे से भी हो सकेगा आधार सत्यापन

नयी दिल्ली। भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) ने आधार डाटा को सुरक्षित करने के लिए नयी पहल की है, जिसके तहत अब आपका चेहरा भी आधार सत्यापन का जरिया होगा। यूआईडीएआई की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि आधार सत्यापन के लिए अंगुलियों के निशान, वन टाइम पासवर्ड (ओटीपी) तथा आंखों की पुतलियों का इस्तेमाल किया जाता रहा है, लेकिन अब एक जुलाई से चेहरा भी सत्यापन का एक माध्यम बनेगा। आधिकारिक सूत्रों के अनुसार, अकेले चेहरे से पहचान सत्यापित करने का काम पूरा नहीं हो पायेगा, बल्कि यहां पर चेहरे के साथ मौजूदा तीन माध्यमों- फिंगरप्रिंट, आइरिश और ओटीपी- में से किसी एक का साथ लेना होगा। इसके बाद ही सत्यापन का काम पूरा हो सकेगा। चेहरे के जरिये सत्यापन के लिए प्राधिकरण मौजूदा उपकरणों में बदलाव करने में मदद करेगा। सिर्फ चेहरे की पहचान के लिए विशेष उपकरण अलग से भी मुहैया कराये जाएंगे। यूआईडीएआई आधार सत्यापन में चेहरे के इस्तेमाल के लिए तकनीकी ब्यौरा पहली मार्च से मुहैया कराना शुरू करेगा। इसके बाद पहली जुलाई से इस विकल्प का इस्तेमाल होना शुरू हो जायेगा। प्राधिकरण ने यह घोषणा उच्चतम न्यायालय में आधार पर सुनवाई के ठीक 24 घंटे पहले की है। न्यायालय में मंगलवार को इस बात पर जिरह होगी कि आधार आखिरकार क्यों अनिवार्य हो?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*