Monday , 19 February 2018
Breaking News
Home » Business » काउंसिल ने 29 आइटम्स और 53 सेवाओं पर घटाया जीएसटी

काउंसिल ने 29 आइटम्स और 53 सेवाओं पर घटाया जीएसटी

पेट्रोल-डीजल पर अभी विचार नहीं

नई दिल्ली। जीएसटी काउंसिल ने छोटे कारोबारियों और ग्राहकों को बड़ी राहत देते हुए हैंडीक्राफ्ट्स समेत 29 आइटम्स पर जीएसटी को कम करने का फैसला लिया है। इसके अलावा 53 सेवाओं के जीएसटी रेट में भी राहत देने का फैसला लिया गया है। मीटिंग के बाद वित्त मंत्री अरूण जेटली ने बताया कि काउंसिल की ओर से 53 श्रेणियों में आने वाली सेवाओं पर भी जीएसटी दर को कम किया गया है। जीएसटी की नई दरें 25 जनवरी से लागू करने का फैसला लिया गया है। पेट्रोल और डीजल को जीएसटी के दायरे में लाने की उम्मीद बंधाते हुए फाइनैंस मिनिस्टर ने कहा कि अगली मीटिंग में इस पर विचार किया जाएगा।
1 फरवरी से लागू होगा इंटर स्टेट ई-वे बिल
1 फरवरी से इंटर स्टेट ई-वे बिल की व्यवस्था शुरू होगी। इसके अलावा 15 राज्यों ने इंट्रा-स्टेट ई-वे बिल की व्यवस्था भी शुरू करने की बात कही है। इस मीटिंग में आईटी सेक्टर के दिग्गज नंदन नीलेकणि भी शामिल थे।
रिटर्न फाइलिंग में फिलहाल कोई राहत नहीं
वित्त मंत्री अरूण जेटली ने कहा कि रिटर्न की फाइलिंग पहले की तरह ही चलती रहेगी। रिटर्न फाइलिंग की प्रक्रिया को आसान करने को लेकर नंदन नीलेकणि ने एक प्रजेंटेशन भी दिया। उन्होंने कहा कि जल्दी ही तीन रिटर्न फाइलिंग के स्थान पर एक रिटर्न फाइलिंग की व्यवस्था शुरू की जाएगी।
रियल एस्टेट पर भी कोई बात नहीं
इसके अलावा जीएसटी काउंसिल की मीटिंग में रियल एस्टेट सेक्टर को जीएसटी के दायरे में लाने को लेकर भी कोई बातचीत नहीं हुई। मीटिंग से पहले इस सेक्टर को दायरे में लाने को लेकर चर्चा जोरों पर थी। इसके अलावा जीएसटी की फाइलिंग में भी कारोबारियों को अभी कोई राहत नहीं मिल पाई है। पेट्रोल से महंगा हो सकता है डीजल
नई दिल्ली। देश में पेट्रोल के दाम करीब साढ़े तीन साल के उच्चतम स्तर पर पहुंच चुके हैं जबकि डीजल हर दिन सर्वकालिक उच्च स्तर का नया रिकॉर्ड बना रहा है। लेकिन, डीजल की महंगाई पेट्रोल से कहीं ज्यादा तेजी से बढ़ रही है और यदि यह क्रम जारी रहा तो हो सकता है कि देश में डीजल पेट्रोल से महंगा बिकने लगे।
पेट्रोल और डीजल की कीमतें रोजाना तय करने की व्यवस्था पिछले साल 16 जून से लागू की गयी थी। तब से अब तक राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में पेट्रोल के दाम 9.29 प्रतिशत और डीजल के 14.24 प्रतिशत बढ़े हैं।
देश की सबसे बड़ी तेल विपणन कंपनी इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन के अनुसार, 16 जून 2017 को दिल्ली में पेट्रोल 65.48 रुपये प्रति लीटर था जो 18 जनवरी 2018 को 71.56 रूपये प्रति लीटर पर पहुंच गया। यह अगस्त 2014 के बाद का इसका उच्चतम स्तर है।
डीजल की कीमत पिछले साल 16 जून को 54.49 रूपये प्रति लीटर थी जो इस गुरूवार को 62.25 रूपये प्रति लीटर हो गयी है। इस साल के आंकड़े ही देखें तो जनवरी के पहले 18 दिन में पेट्रोल के दाम 1.59 रूपये बढ़े है जबकि डीजल 2.61 रूपये प्रति लीटर महंगा हो चुका है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*