Friday , 24 March 2017
Top Headlines:
Home » Udaipur » आठ दिन में 28 अनुष्ठानों से होगा विक्रम संवत 2073 विदा

आठ दिन में 28 अनुष्ठानों से होगा विक्रम संवत 2073 विदा

उदयपुर। अखिल भारतीय नववर्ष समारोह समिति, नगर निगम उदयपुर, आलोक संस्थान एवं विभिन्न समाज, संगठनों के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित होने वाले नव सम्वत्सर महोत्सव के कार्यक्रमों की घोषणा अलका होटल में पत्रकार सम्मेलन में महापौर चन्द्रसिंह कोठारी व नववर्ष समारोह के राष्ट्रीय सचिव डॉ. प्रदीप कुमावत ने की। नववर्ष समारोह के राष्ट्रीय सचिव डॉ. प्रदीप कुमावत ने बताया कि 21 मार्च को प्रारम्भ होने वाले आठ दिवसीय अनुष्ठानों में करीब 28 ऐसे कार्यक्रम है जिन्हें झीलों के किनारे व अन्यत्र आयोजित किए जाएंगे। विभिन्न अनुष्ठानों के साथ घट स्थापना, कलश पूजन, शंखनाद दोपहर 12.15 बजे श्रीराम मन्दिर, आलोक हिरण मगरी से नववर्ष के कार्यक्रमों का शुभारंभ होगा। बुधवार को भगवान शिव के संकेतों के चित्रों की भव्य प्रदर्शनी सौम्य शिवोऽम, शिवोऽम गोवर्धन सागर की पाल पर शाम 5 बजे लगेंगी। शिव के संकेतों के चित्र शिवसिंह सोलंकी व सहयोगियों द्वारा बनाये गए हैं।
गुरुवार को नगर के विभिन्न क्षेत्रों में राष्ट्र जागरण और आमंत्रण यात्रा निकलेगी जो नगर के लोगों को नव सम्वत्सर के कार्यक्रमों में आमंत्रित करेगी। यह कार्यक्रम नववर्ष समारोह समिति व आलोक संस्थान द्वारा आयोजित किए जाएंगे। शुक्रवार को भारतमाता का पूजन सूरजपोल चौराहेे पर शाम 5.30 बजे किया जाएगा। इसमें बजरंग सेना के साथ मिलकर चारों दिशाओं में भारत माता की आरती का आयोजन मुख्य चौराहे पर होगा। शनिवार को महाकालेश्वर मन्दिर में शाम 5 बजे मुक्ताकाशी सहस्त्रधारा अभिषेक किया जायेगा। शाम को 4.15 बजे से महारूद्राभिशेक महाकालेश्वर के नव निर्मित घाट पर होगा।
रविवार को फतहसागर पाल शाम 5 बजे नववर्ष समारोह समिति, नगर निगम, आलोक संस्थान, भारत विकास परिषद मिलकर पगड़ी सजाओ, रखड़ी सजाओ का आयोजन करेंगे। दौलत सेन द्वारा बनाई सबसे लम्बी पगड़ी 2074 मीटर का प्रदर्शन भी किया जाएगा।
27 मार्च को तीन अलग-अलग स्थानों से ज्योति कलश संस्कृति चेतना यात्रा, राष्ट्रीय सांस्कृतिक एकता चेतना पद यात्रा हाथीपोल से गणगौर घाट पर शाम 6.30 बजे जिलाध्यक्ष कृष्णकांत कुमावत व यात्रा संयोजक शिवसिंह सोलंकी, भूपेन्द्रसिंह भाटी ने बताया कि इस वर्ष ज्योति कलश संस्कृति चेतना यात्रा पहली नाथद्वारा से हाथीपोल, दूसरी बैजनाथ महादेव सीसारमा से हाथीपोल, तीसरी यात्रा बोहरा गणेशजी से हाथीपोल तक निकलेगी। हाथीपोल पर शाम 6.30 तीनों यात्राओं का त्रिवेणी संगम होगा।
हाथीपोल से सभी लोग पैदल जयकारे लगाते हुए जगदीश चौक पहुंचेंगे। चौक से सप्त ज्योति के साथ सम्मिलित होते हुए गणगौर घाट पहुंचकर विक्रम सम्वत 2073 को गंगा आरती के साथ विदा किया जाएगा। इस्कोन के विशेष भक्ति समूह भक्तिमय प्रस्तुति देते हुए पद यात्रा में साथ चलेंगे। 28 मार्च को सुबह 2.30 घंटे देरी से 8.30 बजे आने वाले नववर्ष का स्वागत किया जाएगा। 8.29 तक अमावस्या लगी रहेगी। 9.15 बजे के बाद घट स्थापना के मुहूर्त शुरू होगा। महापौर चन्द्रसिंह कोठारी ने बताया कि निगम इस बार नव सम्वत्सर के कार्यक्रमों में पूरा सहयोग दे रही है। शाम को 6 बजे पाला गणेशजी दूधतलाई तक चैती एकम की सवारी निकाली जाएगी। दूधतलाई पर महाराजा विक्रमादित्य के आगे दीप प्रज्जवलित कर भव्य कार्यक्रम होंगे। निगम के सांस्कृतिक समिति के अध्यक्ष जगदीश मेनारिया ने बताया कि डिजिटल कोल्डफायर आतिशबाजी नगर निगम पहली बार आयोजित करेगा जिसमें आतिशी हवाइयां तथा अद्भुत नजारे सुदर्शन चक्र, रिमझिम बारिश इत्यादि शामिल है। नव वर्ष समारोह के 28 कार्यक्रमों का आगाज
उदयपुर। आमंत्रण यात्रा के माध्यम से हाथीपोल स्थित गणेश मंदिर में पूजन और विभिन्न अनुष्ठानों के साथ नववर्ष समारोह का शुभारंभ ढोल नगाड़ों के साथ किया गया। यात्रा को महापौर चंद्रसिंह कोठारी और नववर्ष समारोह समिति के राष्ट्रीय सचिव डॉक्टर प्रदीप कुमावत ने भगवा झंडी दिखाकर रवाना किया। समारोह समिति जिलाध्यक्ष कृष्णकांत कुमावत, गणपत सोनी, यात्रा सहसयोजक शिव सिंह सोलंकी, जगन्नाथ यात्रा सेक्टर 7 के भूपेंद्र भाटी, अनिल पालीवाल, भरत मेहता, चंद्र गुप्त जी, पुष्पा टांक, नाथद्वारा नव वर्ष समिति के मनोज कुमावत सहस्त्रधारा अभिषेक कार्यक्रम के संयोजक निश्चय कुमावत, नारायण चौबीसा, ललित कुमावत,सभी उपस्थित थे। इस अवसर पर नगर में महिलाओं का विशेष रुप से इस आमंत्रण यात्रा में आह्वान करने के लिए हाथी पोल से प्रारंभ होकर यात्रा जगदीश मंदिर तक पहुंची। नव वर्ष समारोह समिति के राष्ट्रीय सचिव डॉ. प्रदीप कुमावत ने बताया कि सर्व समाज की महिलाओं को व गणगौर उत्सव से जुड़ी सभी महिलाओं को संकल्प दिलाया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*