Monday , 27 March 2017
Top Headlines:
Home » India » केन्द्र में मोदी, यूपी में योगी, पूर्वांचल बना पावर सेंटर

केन्द्र में मोदी, यूपी में योगी, पूर्वांचल बना पावर सेंटर

वाराणसी। देश को नरेंद्र मोदी के रूप में प्रधानमंत्री देने के बाद पूर्वांचल 15 साल बाद यूपी का भी पावर सेंटर बनने जा रहा है। 8 मार्च 2002 को प्रदेश के मुख्यमंत्री के पद से राजनाथ सिंह की विदाई के बाद पूर्वांचल में गोरखपुर को कर्मभूमि बनाए योगी आदित्यनाथ 19 मार्च 2017 को मुख्यमंत्री की कुर्सी संभालने जा रहे हैं। गोरखनाथ मंदिर के महंत योगी आदित्यनाथ इस समय पांचवीं बार गोरखपुर से संसद सदस्य है।
हिंदुत्ववादी संगठन ‘हिंदू युवा वाहिनीÓ की संस्थापना करने वाले योगी को मुख्यमंत्री की कुर्सी मिलने के पीछे विधानसभा चुनाव में भाजपा को रेकॉर्ड सीट मिलने का भी अहम रोल रहा है। पूर्वांचल में गिने जाने वाले 25 जिलों में से 11 जिलों की सभी विधानसभा सीटों पर भाजपा को जीत मिली है। पूर्वांचल की 141 सीटों में से 111 सीट भाजपा को मिली थी, वहीं सपा को 14 व बसपा को 12 सीटों से ही संतोष करना पड़ा। कुशीनगर की एक सीट छोड़ दें तो पूर्वांचल में कांग्रेस का लगभग सफाया हो चुका है।
करीब डेढ़ दशक बाद पूर्वांचल के हिस्से में सीएम की कुर्सी आ रही है। इसकी खुशी बनारस से लेकर बस्ती तक में महसूस की जा सकती है। प्रदेश को 11 मुख्यमंत्री देने वाले पूर्वांचल में विधानसभा चुनाव के दौरान इतनी बड़ी जीत की लहर किसी भी राजनीतिक दल के पक्ष में नहीं दिखी थी। पूर्वांचल से मिली रेकॉर्ड सीटों के बाद ऐसी अटकलें थीं कि इसी इलाके से कोई सीएम बनेगा। शनिवार शाम इन अटकलों पर तब विराम लग गया जब यूपी भाजपा के विधायक दल की बैठक में औपचारिक तौर पर योगी आदित्यनाथ को नेता चुन लिया गया।
गोरखपुर सांसद योगी आदित्यनाथ अपनी तेज-तर्रार कार्यशैली के चलते जाने जाते रहे हैं। योगी के चलते यूपी चुनाव में भाजपा को मतों के धू्रवीकरण का काफी फायदा हुआ। उनके साथ यूपी में चुनावी दौरे में साथ रहने वाले भाजपा नेता कामेश्वर सिंह कहते हैं कि यह प्रदेश का सौभाग्य है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के आशीर्वाद से पहली बार धर्म संग राष्ट्रकर्मी योगी के हाथ में सूबे की बागडोर आ रही है। योगी को लेकर विरोधियों के सवालों पर वह कहते हैं योगी जी स्पष्टवादी, राष्ट्रवादी और भ्रष्टाचार विरोधी है। उनके विरोधी सिर्फ उनके बारे में गलत बातें ही प्रचारित करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*