Monday , 27 March 2017
Top Headlines:
Home » Sports » ”ओपन करा धोनी ने करियर बदल दिया”

”ओपन करा धोनी ने करियर बदल दिया”

rohit-sharmaनई दिल्ली। वनडे इंटरनैशनल मैचों में भारत के उम्दा बल्लेबाजों में से एक रोहित शर्मा का मानना है कि सीमित ओवरों की कप्तानी छोडऩे वाले महेंद्र सिंह धोनी का 50 ओवर के प्रारूप में उनसे पारी शुरू कराने का फैसला उनके लिए करियर बदलने वाला था। रोहित ने कहा, मुझे लगता है कि वनडे अंतरराष्ट्रीय मैचों में पारी शुरू करने के फैसले ने मेरा करियर बदल दिया और यह फैसला धोनी ने किया था। इसके बाद मैं बेहतर बल्लेबाज बन गया। इससे मुझे अपना खेल बेहतर तरीके से समझने में मदद मिली और मैं स्थिति के अनुसार बेहतर प्रतिक्रिया दे पाया।
रोहित ने पहली बार 2013 की शुरूआत में इंग्लैंड के खिलाफ घरेलू सीरीज के दौरान सलामी बल्लेबाज की भूमिका निभाई। उन्होंने इस सीरीज में 80 के आसपास रन बनाए और फिर चैंपियन्स ट्रोफी में ठोस प्रदर्शन किया। धोनी के पारी की शुरुआत के लिए कहने के संदर्भ में रोहित ने कहा, वह (धोनी) मेरे पास आया और कहा कि मैं चाहता हूं कि तुम पारी की शुरूआत करो क्योंकि मुझे भरोसा है कि तुम अच्छा करोगे। तुम कट और पुल शॉट दोनों अच्छा खेल सकते हो, इसलिए तुम्हारे अंदर सलामी बल्लेबाज के रूप में सफल होने का गुण है। रोहित ने बताया, धोनी ने मुझे बताया कि विफलताओं से हम डरे और आलोचनाओं से निराश नहीं हो। वह बड़ी तस्वीर देख रहे थे क्योंकि उस साल इंग्लैंड में चैंपियन्स ट्रोफी होनी थी। रोहित के अनुसार धोनी की खिलाड़ी की क्षमताओं को परखने की क्षमता बेजोड़ है।
करूण नायर ने इंग्लैंड के खिलाफ तिहरा शतक जड़ा। करूण के प्रदर्शन से क्या रोहित असुरक्षित महसूस कर रहे हैं, यह पूछने पर उन्होंने कहा, मैं कभी असुरक्षित महसूस करने वाला व्यक्ति नहीं रहा और इसका कारण यह है कि मुझे पता है कि जीवन में आगे कैसे बढऩा है। अगर आप चोटिल नहीं हो, तो क्या होता इस बारे में सोचना बेमानी है। तथ्य यह है कि करूण को मौका मिला और वह शानदार खेला और उसकी तारीफ होनी चाहिए।
जांघ की चोट के ऑपरेशन के बाद रोहित आठ हफ्ते की रिहैबिलिटेशन प्रक्रिया से गुजर चुके हैं। उन्होंने बताया, प्रतिस्पर्धी क्रिकेट में वापसी की कोई तय तारीख मैं नहीं बता सकता। मुझे बताया गया है कि पूरी तरह से उबरने में 12 से 14 हफ्ते लगेंगे। इसका मतलब हुआ कि अभी से चार से छह हफ्ते में। रोहित ने कहा, मैंने दौडऩा शुरू कर दिया है और अगले हफ्ते से मैं बल्लेबाजी ड्रिल शुरू करूंगा। शुरू में सामान्य अभ्यास के बाद गेंदबाजी मशीन के खिलाफ बल्लेबाजी करूंगा और फिर नेट सत्र में हिस्सा लूंगा।
रोहित को कुछ घरेलू मैच खेलने होंगे और विजय हजारे ट्रोफी का आयोजन अगले महीने के अंत में किया जाएगा। उन्होंने कहा, ऑस्ट्रेलिया सीरीज के बारे में मुझे नहीं पता लेकिन मुझे कुछ अभ्यास मैच खेलने होंगे। मुझे मुंबई क्रिकेट संघ से बात करनी होगी कि क्या मैं कुछ क्लब मैच खेल सकता हूं। समस्या यह है कि मैं 10 साल से अधिक समय से क्लब क्रिकेट नहीं खेला हूं इसलिए मुझे मौजूदा प्रक्रिया की जानकारी नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*