Monday , 16 January 2017
Top Headlines:
Home » Udaipur » प्रदेश में पायलट को मौका दे केन्द्र में आएं गहलोत

प्रदेश में पायलट को मौका दे केन्द्र में आएं गहलोत

digvijaysinghउदयपुर। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के राष्ट्रीय महासचिव और गोवा में विधानसभा चुनाव प्रभारी दिग्विजय सिंह ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को अब प्रदेश में सचिन को काम करने का मौका देकर केन्द्र की राजनीति में आना चाहिए। प्रदेश में सचिन पायलेट अच्छा काम कर रहे है। इसके साथ ही स्पष्ट किया कि प्रदेश में वरिष्ठ नेताओं और युवा नेताओं के बीच में कोई टक्कर नहीं है और कोई गुटबाजी नहीं है।
कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव दिग्विजयसिंह शनिवार सुबह उदयपुर आए थे और मध्यप्रदेश में एक कार्यक्रम में भाग लेकर पुन: शाम को दिल्ली जाने के लिए उदयपुर आए थे। फ्लाईट के लेट होने पर वे एयरपोर्ट के पास में ही एक होटल में रूके और इस दौरान पत्रकारों से वार्ता कर रहे थे। इस मौके पर दिग्ििवजयसिंह ने कहा कि प्रदेश में कोई पैरलल कांग्रेस नहीं चल रही है। उन्होंने सोशल मीडिया पर चल रहे विभिन्न ग्रुपों के बारे में स्पष्ट किया कि यह तो आम बात है। पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलेट के बीच में टकराहट के बारे में दिग्विजयसिंह ने कहा कि गहलोत को अब पायलेट को अपना काम करने देना चाहिए। पायलेट प्रदेश में बहुत अच्छा काम कर रहे है। इस मौके पर दिग्विजयसिंह ने कहा कि मैं वर्ष 2003 से ही मध्यप्रदेश की राजनीति से बाहर हूं और मैने कई बार अशोक गहलोत से भी कहा कि उन्हें भी प्रदेश की राजनीति छोड़कर केन्द्र की राजनीति में आ जाना चाहिए। दिग्विजयसिंह ने कहा कि मेरी इस बारे में गहलोत से बात भी हुई है। हालांकि दिग्विजयसिंह को गहलोत ने क्या जवाब दिया, इस बारे में दिग्विजयसिंह ने नहीं बताया।उत्तरप्रदेश में समाजवादी पार्र्टी के बिखराव पर नजर है
इस मौके पर कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव दिग्विजयसिंह ने कहा कि पंजाब, झारखण्ड, मणिपुर, गोवा और उत्तरप्रदेश में हो रहे चुनाव में कांगे्रस अच्छी स्थिति में है। दिग्विजयसिंह स्वयं गोवा के प्रभारी है और वहां पर प्रत्याशियों को फाईनल कर लिया गया है। इसके साथ ही उत्तरप्रदेश के बारे में बताया कि उत्तरप्रदेश में समाजवादी पार्टी के बिखराव पर विशेष रूप से नजर है और समाजवादी पार्टी का जो भी निर्णय होगा, उसी आधार पर कांग्रेस की रणनीति होगी।
जब तक परिणाम आए तब तक कुछ नहीं
एक्जिट पोल पर असंतोष जाहिर करते हुए दिग्विजयसिंह ने कहा कि एक्जिट पोल तो अमेरिका में हैलेरी क्लिंटन को जीता रहे थे। इसी कारण एक्जिट पोल पर बिल्कुल भी भरोसा नहीं है। चाहे जैसी मर्जी हो वैसा पोल निकाल दो। दिग्विजयसिंह ने कहा कि किसी पर भी भरोसा नहीं है और जब तक किसी चुनाव का परिणाम नहीं आ जाता है तब तक कोई कुछ नहीं कह सकता।
क्रेडिट कार्ड कंपनी और बैंक अधिकारियों को हुआ है फायदा
दिग्विजयसिंह ने कहा कि नोट बंदी से बैंक अधिकारियों और क्रेडिट कार्ड कंपनियों को फायदा हुआ है। गरीब और किसान तो मारा गया है। उन्होंने कहा कि मण्डी में किसान को यदि कैश लेना हो तो 300 रूपए कम दिया जा रहा है और यदि चैक दो तो एक माह तक चक्कर काटते रहो। छोटे व्यापारी जो कैश में व्यापार करते थे उनका व्यापार बंद हो गया है।
अमित शाह के बैंक ने बांटे करोड़ा के नोट
दिग्विजयसिंह ने कहा कि नोट बंदी के बाद भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह अहमदाबाद में जिस कॉपरेटिव बैंक के चैयरमेन है उसने जमकर नोट बांटे है। इसके साथ ही गुजरात में तो 1 करोड़ के पुराने नोटों पर 67.50 लाख रूपए नए नोट दिए गए। जमकर कालाबाजारी की गई है और इस बारे में गुजरात के भाजपा नेता यतिन्द्र ओझा ने तो अमित शाह को लेकर प्रधानमंत्री को शिकायती पत्र भी भेजा है।
योजनाओं के ब्रांड एम्बेसेडरों के खातों में है नकली नोट
दिग्विजयसिंह ने कहा कि नोटबंदी पर किसी भी बड़े व्यक्ति पर कार्यवाही नहीं की गई। सरकार ने काला धन जमा करवाने पर 50 प्रतिशत की छूट दे दी जिससे इन लोगों को फायदा हो गया। असली काला धन तो ज्वैलरी और प्रोपर्टी में है। सरकार के पास विदेशी बैंकों के पैपर्स आए है, जिनमें जिन लोगों के नाम है वे देश की सरकारी योजनाओं के ब्रांड एम्बेसेडर बने बैठे है। ऐसे में कार्यवाही हो तो भी कैसे हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*