अमेरिका में भयानक मंजर

0
735

वाशिंगटन (एजेंसी)। कोरोना वायरस के कारण अमेरिका में सबसे ज्यादा लोगों की मौत हुई है। यहां के शहरों में मौत का मंजर कितना भयानक है, इसका अंदाजा ब्रूकलिन में बने हालात से लगता है। यहां के एक शवदाह गृह में लाशों के ढेर पाए गए। एक ओर लोगों का अंतिम संस्कार चल रहा था तो दूसरी ओर एक के ऊपर एक शव रखे गए थे। अपनी दादी के अंतिम संस्कार के लिए पहुंचे एक शख्स ने ये तस्वीर देखी तो उनके होश उड़ गए। कुछ दिन बाद यहां के असल हालात का पता चला।शवों के ढेर और ‘मौत की गंधÓताबूत के नजदीक दिखी भयानक तस्वीरअपनी दादी के अंतिम संस्कार के लिए ऐंड्रू क्लेकली फ्यूनरल होम गए जेकवे क्लार्क को ताबूत के पीछे एक स्क्रीन के पार एक पैर दिखा। जब वह उस ओर गए तो हाथ उठाकर स्क्रीन के पीछे की तस्वीर ली। यह तस्वीर देखते ही उनके होश उड़ गए। स्क्रीन के पीछे करीब 8 शव बिना कपड़ों के बमुश्किल चादर से ढके हुए रखे गए थे।
मौत को सूंघ सकते थे : करीब 22 दिन बाद पड़ोसियों ने पुलिस को बुलाया। तब तक इलाके में गंध फैल चुकी थी। लोगों का कहना है कि ‘आप मौत को सूंघ सकते थेÓ। जब पुलिस यहां पहुंची तो हालात देखकर उसके भी पैरों के नीचे से जमीन सरक गई। ट्रकों में करीब 100 शव रखे हुए थे। बिना फ्रिज के ये सडऩे की हालत में पहुंच गए थे। फिलहाल फ्यूनरल होम पर कोई केस नहीं किया गया है लेकिन उसका लाइसेंस रद्द कर दिया गया है।कम पड़
गई जगह…फ्यूनरल होम का कहना है कि उसके पास इतने ज्यादा शव आ रहे थे कि जगह कम पड़ गई थी। हालात ऐसे हो गए थे कि एक ही जगह पर स्क्रीन खड़ी करके एक तरफ अंतिम संस्कार चल रहा था, दूसरी तरफ शव रखे गए थे। जब यहां जगह भर गई तो ट्रकों में शव रखे गए। वहीं, जिस कंपनी के ट्रक थे उसने इस मामले को अमानवीय बताया है और कहा कि उसके ट्रकों का इस्तेमाल इस काम के लिए नहीं किया जा सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here