अब इकॉनमी पर फोकस, प्र.म. ने बनाई रणनीति

    0
    454

    नई दिल्ली (एजेंसी)। कोरोना महामारी से पहले लोगों की जान बचाने के बाद अब सरकार का फोकस आर्थिक गतिविधि में तेजी लाने पर है। पूरे देश में 25 मार्च से ही लॉकडाउन जारी है, जिसके कारण अर्थव्यवस्था को भारी धक्का लगा है। आर्थिक गतिविधि ठप होने के कारण विकास की गाड़ी रूकती नजर आ रही है। ऐसे में देश की अर्थव्यवस्था में जान डालने को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विदेशी निवेशकों को लुभाने और घरेलू निवेश में तेजी लाने को लेकर एक अहम बैठक की। इस बैठक में गृह मंत्री अमित शाह, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण समेत तमाम अधिकारी मौजूद थे।
    क्लियरेंस प्रकिया आसान हो
    बैठक में पीएम ने कहा कि निवेशकों को किसी तरह की समस्या नहीं हो इसका विशेष ध्यान रखा जाए। उन्हें केंद्र और राज्य स्तर पर क्लियरेंस को लेकर किसी तरह की परेशानी नहीं हो और इस प्रक्रिया में लगने वाले समय को घटाया जाए। बैठक में चर्चा की गई कि देश में मौजूदा औद्योगिक भूमि/प्लॉट/एस्टेट के बुनियादी ढांचे को बढ़ावा देने के लिए एक योजना विकसित और आवश्यक वित्तीय सहायता प्रदान करनी चाहिए।
    राज्यों को भी दिया था निर्देश
    27 अप्रैल को जब पीएम मोदी ने मुख्यमंत्रियों संग बैठक की थी तब भी उन्होंने राज्यों को निर्देश दिया था कि वे विदेशी निवेशकों के लिए रेड कार्पेट बिछा कर रखें। ऐसा नहीं होना चाहिए कि कोई भी निवेशक देश छोड़कर दूसरे जगह जाए।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here