20 मार्च से शुरू कर दी थी तैयारियां, पहले दिन 900, अब 300 कॉल रोज

0
1011

डीएसओ : ज्योति ककवानी
उदयपुर। जिले में चल रहे लॉक डॉउन को लेक जिला रसद अधिकारी ज्योति ककवानी ने बताया कि इसकी तैयारी 20 मार्च से ही शुरू कर दी थी और लॉक डॉउन को लेकर कंट्रोल रूम बनाया गया था, जहां पर पहले ही दिन 24 मार्च को 900 कॉल आए, यह देखकर टेलीफोन लाईनें बढ़ाई गई और कार्मिकों के मोबाईल नम्बर भी दिए गए। अब 300-400 कॉल आ रहे है। कंट्रोल रूम और जो मोबाईल नम्बर पर जो फोन आ रहे है उनकी रजिस्टर में एंट्री कर एडे्रेस वेरीफाई करते हुए राशन डीलर से यह सुनिश्चित करवाते है कि वह खाद्य सुरक्षा में चयनित है या नहीं।

ज्योति ककवानी ने बताया कि इसको लेकर पहले से ही प्लानिंग कर रखी थी और जिला कलेक्टर के निर्देश पर बनाए गए 9 सेक्टर और 27 जोन में उनमें अधिकारियों की पहले से ही नियुक्ति कर रखी थी और सेक्टर और जोन वाईज इन सभी अधिकारियों को लिस्ट के अनुसार राशन किट दिया जाता है और वे जाकर इसे सप्लाई कर रहे है, पूरी एक चैन बना रखी है ताकि किसी तरह की समस्या ना आए और कोई भूखा ना सोए।

एमपी से दाल मंगवाई
ककवानी ने बताया कि जिला कलेक्टर आनंदी इतनी गंभीर है कि दाल को लेकर समस्या आई तो तत्काल मध्यप्रदेश के नीमच और मंदसौर कलेक्टर से बात कर वहां से दाल मंगवाई थी, ताकि कोई समस्या ना हो।
रिटेलरों से पहले ही बात कर रखी थी
कोरोना पॉजिटिव मिलने की आशंका पर कफ्र्यू लगाए जाने की आशंका पर सभी क्षेत्रों के रिटेलेरों, दूध वालों से और किराणा वालो, सब्जी विक्रेताओं से बात कर उनकी लिस्ट बना रखी थी, ताकी कफ्र्यू लगते ही इनकी सेवाएं ली जा सकें और पूरी प्लाङ्क्षनग के साथ इन लोगों का उपयोग लिया गया।
180 वाहन मांगे थे परिवहन विभाग से : जिला प्रशासन ने परिवहन विभाग से बात कर 180 वाहनों को तैयार रखने के लिए कहा था, ताकी बाद में तलाशना ना पड़े। परिवहन विभाग ने भी आवश्यकतानुसार वाहन उपलब्ध करवा दिए। इसके साथ ही सभी उपखण्ड अधिकारियों को भी अपने स्तर पर इस तरह की सुविधाएं करने के लिए कहा था तो सभी ने सुविधाएं भी कर ली।
जो सम्पन्न है और सहायता ले चुके है वे ना लें : रसद अधिकारी ज्योति ककवानी ने कहा कि हमारे पास स्टॉक पूरा है और ना ही किसी तरह की समस्या है। समस्या तो केवल एक ही है कि जो सम्पन्न है और जो राशन ले चुके है वे ना लेंवे। वो किसी जरूरतमंद के काम आ सकता है और दूसरी या तीसरी बार लेने वाले किसी का हक मार रहे र्है।डोर टू डोर फल-सब्जी बिक्री में जुड़ रहे विक्रेता
लॉकडाउन में शहरवासियों फल-सब्जी को उपलब्ध कराने के लिए जिला प्रशासन के साथ विक्रेता जुड़ रहे है। मण्डी सचिव ने बताया कि इसी कड़ी में शहर के फतहपुरा व अहिंसापुरी के लिए भरत सोनी, सविना, सेक्टर 9 वार्ड 21, 22 व 23 के लिए सुरेश माधवानी, हिरण मगरी, सुभाष नगर व डोर नगर कच्ची बस्ती वार्ड 30 व 21 में किशन भोई व भुवाणा, चित्रकूट नगर व मीरा नगर के लिए विक्रेता हीरालाल माली को यह दायित्व सौंपा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here