सहायता को आए समाज, दिल खोलकर दान

    0
    447

    उदयपुर (वि.)। शहर में लॉकडाउन के बीच विभिन्न समाज और संस्थाएं लगातार लोगों की मदद के लिए आगे आ रही है। उदयपुर गुजराती समाज की ओर से एक लाख 11 हजार 111 मुख्यमंत्री राहत फण्ड में अतिरिक्त कलेक्टर ओ.पी. बुनकर को चेक प्रदान किया। इस अवसर पर गुजराती समाज के अध्यक्ष नानजीभाई पटेल और गुजराती समाज के सचिव राजेश बी. मेहता उपस्थित थे।
    कानोड़ मित्र मंडल उदयपुर द्वारा लॉकडाउन से प्रभावित परिवारों की मदद के लिए अतिरिक्त जिला कलेक्टर (प्रशासन) ओम प्रकाश बुनकर को एक लाख इक्यावन हजार का चेक प्रदान किया गया। मित्र मंडल के अध्यक्ष हिमांशु राय नागोरी ने यह जानकारी दी।
    कोरोना वायरस महामारी के संक्रमण को रोकने के लिये नारायण सेवा संस्थान ने अपने अग्निशमन वाहन से विभिन्न क्षेत्रों में सेनेटाइज करने की सेवा आरंभ की। संस्थान की ओर से अध्यक्ष प्रशांत अग्रवाल ने बताया कि गुरुवार को नगर निगम वार्ड न. 23 की पार्षद आरती वसीटा की उपस्थिति में विजयसिंह नगर, पथिक नगर, सत्यदेव कॉलोनी, गमेती बस्ती, आमल्या बावजी,पीपली चौक, मंदिर, महिला शौचालय-स्नानगृह, न्यू राधा स्वामी पार्क की 5 गलियों, ओम कॉलोनी, वी आई पी कॉलोनी आदि में सेवा टीम ने अग्निशमन वाहन से सेनेटाइज किया।साथ ही संस्थान इस संकट की वेला में 2000 गरीब जन में भोजन और 1500 लोगों को मास्क वितरण की सेवा सुचारू चला रहा है।
    उदयपुर मार्बल प्रोसेसर्स समिति द्वारा कोरोना सहायता फंड में 10 लाख रुपए का चेक गुरुवार को कलेक्टर को दिया। समिति महासचिव डॉ हितेश पटेल ने यह जानकारी दी।
    इमलीघाट पायनियर अकादमी स्कूल के बाहर 30 विधवा एवं जरूरतमंद लोगों को राशन किट दिए।
    जग नागरिक सेवा समिति ने गुरुवार को लॉकडाउन से परेशान गरीबों, दिहाडी मजदूरों, बेवाओं को राशन सामग्री एवं भोजन के पैकेट वितरित किये। समिति संस्थापक अख्तर अली सिद्दीकी ने बताया कि मल्लातलाई ओड़ बस्ती, प्रताप नगर, बंजरा बस्ती, मादडी मठ कच्ची बस्ती एवं नीमच माता मंदिर के पास 35 नागरिकों को खाद्य सामग्री एवं 400 लोगों को भोजन के पैकेट वितरित किये एवं लॉकडाउन की कड़ाई से पालन करने की अपील की ।
    अखिल भारतीय कायस्थ महासभा जिला शाखा उदयपुर युवा प्रकोष्ठ अध्यक्ष मनोज सक्सेना के नेतृत्व में ढोल की पाटी ,रेती स्टैंड कच्ची बस्ती ,सेक्टर 9 में लॉक डाउन के चलते प्रभावित जरूरतमंदों तक राशन सामग्री जिसमें 5 किलो आटा, 1 किलो चावल ,आधा किलो दाल, आधा किलो अचार वितरित किया गया।
    पूर्बिया समाज हाथीपोल स्थित नोहरे मे भोजन राहत केंद्र खोला गया है, जहां भोजन बना कर पैकेट तैयार कर कच्ची बस्तियों व जरूरत मंद लोगों को भोजन पैकेट वितरित किए जा रहे हैं। समाज अध्यक्ष दिनेश पूर्बिया ने बताया कि प्रतिदिन करीब 500 भोजन पैकेट वितरित किए जा रहे हैं।
    बिइंग इनर सालेंस आर्गेनाइजेशन की ओर से कोरोना लॉकडाउन के दौरान 200 गरीब परिवारों तक एक माह की राशन सामग्री की सहायता प्रदान की गई। संस्था के कमलेश शर्मा ने बताया कि आगे भी पांच सौ परिवारों को यह सहायता प्रदान की जाएगी।
    मास्क का वितरण भी जोरों पर : कोरोना महामारी के चलते मास्क की कमी को देखते हुए शहर में गुजराती मोची समाज संस्था उदयपुर द्वारा अभी तक 1000 मास्क नि:शुल्क वितरित किये गए।
    झूलेलाल युवा एवं नारी संघ हिरण मगरी द्वारा समाज हित में अलग-अलग समय पर अपनी सेवाएं दी जाती रही है इसी कड़ी में कोरेना महामारी के चलते झुलेलाल नारी संघ की बहन एवं समाजसेवी महिमा चुघ द्वारा पिछले दो दिनों से मास्क बनाए जा रहे हैं वह सुबह से शाम तक अधिक से अधिक मास्क बनाने में लगी हुई है
    खंडेलवाल समाज ने बांटा भोजन : खंडेलवाल वैश्य समाज उदयपुर द्वारा सिटी रेलवे स्टेशन की सेकण्ड एंट्री वाले रेती स्टैंड एवं उसके आसपास हिस्से में जरूरतमंद लोगों को खाने के 300 पैकेट बांटे गए। समाजजनों ने खंडेलवाल समाज भवन में सावधानी पूर्वक भोजन बनवाकर बांटा।

    विशेष योग्यजन बालिकाओं ने दिया सहयोग
    कोरोना वायरस को लेकर गुरूवार को विशेष योग्यजन बालिका पायल वारी पुत्री राकेशचन्द्र ने अपनी बचत में से 1100 रुपये और गार्गी पुरस्कार से सम्मानित निशिता वारी पुत्री गणपतलाल ने भी अपनी स्वयं की बचत से 3100 रूपये का चैक कोरोना से बचाव में अतिरिक्त जिला कलक्टर प्रशासन ओपी बुनकर को दिया।
    जरूरतमंदों को 1500 रूपये की और मिलेगी सहायता
    राज्य सरकार द्वारा कोरोना महामारी से उत्पन्न स्थिति में विभिन्न श्रेणियों के पात्र परिवारों को 1000 रूपये की सहायता के बाद इन परिवारों को 1500 रूपये की सहायता राशि और देने का निर्णय किया है जिसकी प्रक्रिया श्रम विभाग के पूर्व आदेश के अनुरूप ही रहेगी। प्रथम किस्त 1000 रुपये की सहायता राशि का उपयोगिता प्रमाण पत्र जिला कलक्टर द्वारा श्रम विभाग को उपलब्ध कराया जाएगा तथा द्वितीय किस्त की राशि 1500 रुपये के क्रम में उपयोगिता प्रमाण पत्र आयुक्त सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग को उपलब्ध कराया जाएगा। 1500 रुपये प्रति परिवार की सहायता के लिए संबंधित जिलों के जिला कलक्टर द्वारा इंगित बैंक खाते में हस्तांतरित कर दी है।
    उदयपुर के विधायकों ने मद से दिए 62 लाख
    कोरोना वायरस की रोकथाम व बचाव के लिए उदयपुर जिले के सभी विधायक भी आगे आ रहे है और सभी विधायकों ने अब अपने मद से 62 लाख रूपए की स्वीकृतियां दी है, जिनके टेण्डर भी कर दिए है। जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी कमर चौधरी ने बताया कि विभिन्न विधानसभा क्षेत्रों से कुल 62 लाख की स्वीकृतियां जारी हुई है। इनमें खेरवाड़ा विधायक दयाराम परमार, उदयपुर ग्रामीण विधायक फूलसिंह मीणा, गोगुन्दा विधायक प्रतापलाल भील, वल्लभनगर विधायक गजेन्द्रसिंह शक्तावत, झाड़ोल विधायक बाबूलाल खराड़ी, मावली विधायक धर्मनारायण जोशी व शहर विधायक गुलाबचंद कटारिया ने मास्क व सेनिटाइजर और अन्य उपकरणों को खरीदने के लिए 1-1 लाख व मुख्यमंत्री सहायता कोष के लिए 5-5 लाख रूपये तथा सलूम्बर विधायक अमृतलाल मीणा ने मास्क, सेनिटाइजर और अन्य उपकरणों के क्रय के लिए 1 लाख व मुख्यमंत्री सहायता कोष के लिए 12.50 लाख एवं धरियावद विधायक गोतमलाल ने मास्क, सेनिटाइजर और अन्य उपकरणों के लिए 50 हजार व मुख्यमंत्री सहायता कोष के लिए 6 लाख रुपये की स्वीकृति की अनुशंसा की है।
    रेल सुरक्षा बल करा रहा लोगों को भोजन
    कोरोना वायरस लॉक-डाउन के इस दौर में प्रभावित गरीब और मजदूर वर्ग के लोगों को रेल सुरक्षा बल अजमेर मंडल की ओर से यथा संभव मदद की जा रही है। इसके अंतर्गत रेल सुरक्षा बल द्वारा इन्हें भोजन व अन्य सामग्री उपलब्ध कराई जा रही है। 5 दिनों में रेल सुरक्षा बल ने 1372 लोगों को भोजन उपलब्ध कराया है। अजमेर मंडल के विभिन्न स्टेशनों पर रेल सुरक्षा बल पोस्टों पर अधिकारियों व जवानों द्वारा लोगों को भोजन उपलब्ध कराया जा रहा है। बल के अजमेर, उदयपुर, आबू रोड, भीलवाड़ा, डूंगरपुर, मारवाड़ जंक्शन तथा ब्यावर स्टेशनों सहित अन्य स्थानों पर यह सामाजिक सेवा की जा रही है।
    नगर निगम बांटेगा राशन के साढ़े पांच हजार पैकेट
    लॉक-डाउन में शहर के कई वार्डों में अब भी राशन से वंचित रह रहे गरीब और जरूरतमंद परिवारों को तथा निगम के वार्डों में सफाई आदि कामों में ड्यूटी दे रहे कार्मिकों को भी नगर निगम राशन के साढ़े पांच हजार पैकेट बांटेगा। नगर निगम के महापौर जीएस टांक ने गुरुवार को उप महापौर पारस सिंघवी के ही दिए सुझाव पर यह राशन किट बांटने के निर्देश दिए। महापौर ने उप महापौर को सभी 70 पार्षदों को उनके प्रति वार्ड के हिसाब से 50-50 कुल साढ़े तीन हजार पैकेट बांटने की मंजूरी दी। सभी पार्षद अपने वार्डों में ऐसे परिवार चिह्नित कर उनको यह राशन किट उपलब्ध कराएंगे, जिनको अब तक किसी भी प्रकार की मदद नहीं मिल पाई है। इसके अलावा इस विषम परिस्थिति में निगम के शहर में काम कर रहे तमाम कर्मचारियों को भी यह किट देने के महापौर ने निर्देश दिए हैं। इस तरह से निगम शहर में काम कर रहे अपने उद्यान, गैराज, निर्माण, सफाई कर्मचारियों को 2 हजार किट और बांटेगा। इस किट में 5 किलो आटा, 1 किलो तेल, 1 किलो चावल, 1 किलो दाल, 1 किलो शक्कर, ढाई सौ ग्राम चाय पत्ती, 1 किलो बेसन, नमक, मिर्च और मुंह पर लगाने का मास्क दिया जाएगा।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here