सविना मण्डी आई सड़क पर, मुखर्जी चौक प्लेटफार्म पर ही मौजूद

0
519

उदयपुर। शहर की सविना स्थित फल-सब्जी मण्डी आखिरकार सड़क पर आ ही गई। मण्डी में बैठने वाले रिटेलरों को बुधवार को मण्डी के अधिकारियों ने हाड़ी रानी सर्कल पर व्यस्थित रूप से बैठा दिया। अब मण्डी में केवल थोक व्यापारी और किसान ही जा पाएंगे। इधर मुखर्जी चौक मण्डी अभी भी प्लेटफार्म पर चल रही है और अतिक्रमियों ने रोड़ पर आने का प्रयास नहीं किया है।

जानकारी के अनुसार सविना स्थित फल-सब्जी मण्डी में थोक व्यापारियो के साथ-साथ रिेटेल व्यापारी भी बैठते थे। जिससे मण्डी में प्रतिदिन सैंकड़ों की संख्या में शहरवासी सब्जी खरीदने के लिए आते थे। इसके साथ ही शहर और आस-पास के गांवों से सैंकड़ों की संख्या में किसान भी यहां पर आते थे। ऐसे में कोरोना वायरस के बढऩे का खतरा हो गया था। पुलिस और मण्डी प्रशासन ने पहले से ही हाड़ी रानी सर्कल पर रिटेलरों के बैठने की व्यवस्था कर दी थी, लेकिन रिटेलर मान नहीं रहे थे। इस पर मंगलवार को मण्डी में सैंकड़ों की संख्या में भीड़ एकत्रित हो गई थी। इस पर बल प्रयोग भी किया था। बुधवार को मण्डी प्रशासन ने पुलिस का सहयोग लिया और सख्ती अपनाते हुए रिटेलरों को मण्डी के बाहर स्थित हाड़ी रानी सर्कल पर व्यवस्थित रूप से बैठा दिया। अब मण्डी में केवल थोक व्यापारी और किसान ही प्रवेश कर पाएंगे। जो भी रिटेल ग्राहक है उसे हाड़ी रानी सर्कल पर अस्थाई तौर पर स्थापित की गई मण्डी में ही जाना होगा।
इधर मुखर्जी चौक मण्डी बुधवार को भी प्लेटफार्म पर ही रही। मण्डी में सुबह से ही पुलिस जाब्ता था, जो किसी को भी सड़क पर नहीं बैठने दे रहा था। सभी सब्जी विक्रेता प्लेटफार्म पर नगर निगम द्वारा आवंटित जगहों पर ही बैठे और अपना व्यवसाय किया। इससे यह सड़क पर चौड़ी भी नजर आने लगी है।
अब मुखर्जी चौक पार्क को भी हटाने की जरूरत : मुखर्जी चौक में जो पार्क बना है वह भी अतिक्रमण का अड्डा बन चुका है। इस पार्क को ‘लीलवा वाला पार्कÓ के नाम से भी जाना जाता है। लोगों का कहना है कि लीलवों सीजन में इस पार्क में थप्पियां जमा हो जाती है। वैसे भी यह पार्क अतिक्रमियों के अलावा किसी काम नहीं आ रहा है। यहां पर निगम चाहे तो एक शानदार मैकेनाईज पार्किंग बना सकती है, ताकि सिंधी बाजार और बड़ा बाजा में जाने वाले लोग अपने चारपहिया वाहन यहां पर बनने वाली पार्किंग में खड़ी कर सकें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here