जयपुर : मरकज से लौटे 450 लोगों का पता चला, 11 पॉजिटिव

0
695

जयपुर के परकोटे में संक्रमितों का आंकड़ा 26 पहुंचा
राजस्थान में संक्रमित लोगों का आंकड़ा 120 तक पहुंचा, चूरू में मरकज से लौटे सात और टोंक में चार पॉजिटिव मिले

जयपुर के परकोटे इलाके में बुधवार को संक्रमण के 13 नए मामले, इस इलाके में अब तक 26 पॉजिटिव मिल चुके हैं

जयपुर. राजस्थान में कोरोना संक्रमण से हालत बिगड़ते जा रहे हैं। राज्य में बुधवार को संक्रमण के 27 नए मिले। इनमें 13 जयपुर, सात चूरू, चार टोंक, दो जोधुपर और एक अलवर का है। राज्य में अब संक्रमितों की संख्या 120 पर पहुंच गई है। राज्य के अतिरिक्त मुख्य सचिव (गृह) राजीव स्वरूप ने बताया कि मरकज में प्रदेश से करीब 450 लोग शामिल हुए थे। इनका पता लगाकर क्वारैंटाइन किया जा रहा है। इनमें जिन लोगों में संक्रमण के लक्षण नजर आएं हैं उनकी जांच कराई जा रही है। उन्होंने पब्लिक से भी अपील की है कि अगर मरकज से लौटे लोगों के बारे में कोई जानकारी हो तो इसकी सूचना प्रशासन को दें। बुधवार को चूरू मे जो सात और टोंक में चार पॉजिटिव मिले हैं वह सभी मरकज में शामिल होकर लौटे थे।

जयपुर: शहर के परकोटे की ड्रोन से निगरानी
जयपुर में बुधवार को 13 संक्रमित मिले हैं। वह सभी शहर के परकोटे के रामगंज इलाके के हैं। संक्रमण के केस बढ़ने के बाद बुधवार सुबह ही परकोटे इलाके को पूरी तरह से सील कर दिया गया। यहां न कोई बाहर से आ सकता है न ही अंदर जा सकता है। रामगंज में ओमान से लौटे युवक के संक्रमित मिलने के बाद अब तक कुल 26 पॉजिटिव मिल चुके हैं, जो कि सभी युवक से जुड़े हुए थे। इलाके की ड्रोन से निगरानी की जा रही है। लोगों से घर की छतों पर भी दूरी बनाने के निर्देश दिए गए। सिर्फ पुलिस और प्रशासन से जुड़े लोगों को ही इस इलाके में जाने के लिए पास दिए गए हैं।

जयपुर: शाहपुरा के एसडीएम नरेंद्र मीणा की पत्नी ने घर में मास्क तैयार किए। इन मास्क को गरीबों में बांटा जाएगा।
कैदियों को दिया गया राशन पैकिंग का काम
जयपुर की सांगानेर जेल में भी कोरोना से लड़ने के लिए बंदियों की मदद ली जा रही है। यहां गरीबों को बांटे जाने वाले राशन की पैकिंग का काम शुरू किया गया है। यहां करीब 25 बंदियों द्वारा राशन की पैंकिंग की जा रही है।

भीलवाड़ा: कोरोना संदिग्ध ने खिड़की तोड़ भागने की कोशिश की, पकड़ा गया
राजस्थान में भीलवाड़ा कोरोना का एपिसेंटर बना हुआ है। यहां अब तक 26 संक्रमित मिल चुके हैं, जबकि संक्रमण से 2 लोगों की मौत हो चुकी है। मंगलवार को यहां महात्मा गांधी अस्पताल में आइसोलेटेड कर रखे गए कोरोना संदिग्ध युवक ने खिड़की तोड़कर भागने की कोशिश की। वह अस्पताल की खिड़की तोड़कर बाहर लटक गया। हालांकि, इस दौरान लोगों ने उसे देख लिया और अस्पताल के पुलिस और सुरक्षाकर्मियों को सूचना दी। इसके बाद उसे फिर से आइसोलेशन वार्ड में भेजा गया। घटना के बाद अस्पताल में सुरक्षा और बढ़ा दी है। युवक की शुरुआती कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आई है। लेकिन, एहतियात के तौर पर उसे आइसोलेशन सेंटर में रखा गया है।
राज्य के डीजीपी भूपेंद्र सिंह मंगलवार को भीलवाड़ा पहुंचे हैं। यहां उन्होंने पूरे शहर का दौरा किया। संक्रमण की चेन को तोड़ने के भीलवाड़ा में तीन से 13 अप्रैल तक महा कर्फ्यू लगाने की घोषणा की गई है। पूरे शहर की कालोनियों, गलियों को सील किया जा चुका है। डीजीपी ने महा कर्फ्यू की तैयारियों के बारे की समीक्षा की और ड्यूटी में तैनात पुलिस के जवानों से मुलाकात करके उनका हौंसला बढ़ाया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here