6 दुकानों पर कार्यवाही, एक सीज-दो का बनाया चालान

0
542

लॉकडाउन मेें मनमाने दाम वसूलने पर रसद विभाग की कार्यवाही
ड्राईवर को ग्राहक बनाकर की शिकायत की पुष्टि

नगर संवाददाता & उदयपुर । लॉकडाउन में कुछ दुकानदारों द्वारा मनमाने दाम पर सामान बेचने की शिकायतों पर कार्यवाही करने के लिए मंगलवार को अधिकारियों व कर्मचारियों ने 6 दुकानों पर छापामार कार्यवाही करते हुए जांच की तथा अनियमितता मिलने पर एक दुकान को सीज करते हुए दो का चालान बनाकर प्रकरण दर्ज किया।
जिला रसद अधिकारी ज्योति ककवानी ने बताया कि शहर में अलग-अलग स्थानों पर दुकानदारों द्वारा आवश्यक वस्तुओं की निर्धारित किमत से अधिक किमत वसूलने की प्राप्त शिकायतों पर एक दल का गठन किया गया जिसमें प्रवर्तन निरीक्षक पिंकी भाटी व खाद्य निरीक्षक अनिल भारद्वाज और अन्य कार्मिकों को भेजा गया। दल ने फतहपुरा चौराहे पर श्री करधर मेडिकल स्टोर पर अपने ड्राईवर नीरज को सर्जिकल मास्क और सेनीटाईजर खरीदने के लिए ग्राहक बनाकर भेजा। दुकानदार मोहनसिंह द्वारा ड्राईवर को टू व थ्री लेयर सर्जिकल मास्क के स्थान पर 30 रुपये किमत का कपड़े से बना हुआ मास्क दिया जो कि निर्धारित मापदण्डों के अनुसार बना हुआ नहीं था। दुकानदार ने सेनीटाईजऱ नहीं होने की जानकारी दी तो इस पर प्रवर्तन निरीक्षक ने मौके पर पहुंच कर इनके बिल इत्यादि की मांग की तो उसने स्वयं बनाकर बेचना स्वीकारा। इस पर भाटी ने कपड़े से बने हुए 20 से अधिक मास्क जब्त किए और नोटिस देते हुए चालान बना दुकानदार को पाबंद किया।
90 रूपए किलो शक्कर बेची, किराणा दुकान की सीज
दल ने यहां से घंटाघर क्षेत्र में गणेश घाटी पर मेसर्स सुगनचंद किशनलाल नाम से किराणा दुकान पर सुगनचंद के पुत्र संजय जैन ने शक्कर 90 रुपये किलो तथा आलू-प्याज 40 से 50 रुपये किलो देने की बात कही। इस पर उन्होंने मौके पर पहुंच कर दुकानदार व स्थानीय लोगों के साथ सख्ती से पूछा तो मौजूद लोगों ने दुकानदार द्वारा किराणा की सभी सामग्री दुगुने दामों पर बेचने की बात स्वीकार की। दुकानदार निरीक्षक पिंकी भाटी द्वारा नगर निगम व फूड लाईसेंस मांगे जाने पर उपलब्ध नहीं करा पाया वहीं मौके पर रेट लिस्ट भी नहीं पाई गई। इस स्थिति पर इस दुकान को सीज कर दिया गया।
आटा चक्की के खिलाफ भी की कार्यवाही : बोहरा गणेश श्रीराम फ्लोर मिल व किराणा स्टोर पर दल ने कार्यवाही की। मौके पर लाईसेंस दिखाए गए वहीं यहां पर गेहूं के अलग-अलग ब्रांड के 87 बैग पाए गए। दुकानदार इसमें से 54 का ही बिल दिखा पाया जो कि अनियमितता की श्रेणी में आ रहा था। इसी प्रकार यहां पर गेहूं को पीस कर अलग-अलग वजन के आटे 40 बैग तैयार किए गए पड़े थे। इन बैग्स पर ना तो एमआरपी थी ना ही एक्सपायरी और अन्य विवरण। इस पर गेहूं की कालाबाजारी का प्रकरण बनाकर नोटिस व चालान बना पाबंद किया गया।
तीन मेडिकल स्टोर्स पर मास्क व सेनीटाईजर्स की किमत जांची : दल ने आरएनटी के सामने बालाजी मेडिकल स्टोर पर निर्धारित रेट दर्शायी मिली। इसी प्रकार यशोधरा और जोशी मेडिकल स्टोर्स पर भी सेनीटाईजर और मास्क की बिक्री प्रावधानों के अनुरूप पाई गई।
एमआरपी से ज्यादा वसूलने पर गिरफ्तार
शहर की गोवर्धनविलास थाना पुलिस ने एमआरपी से ज्यादा वसूलने पर एक दुकानदार को गिरफ्तार किया है। थानाधिकारी चेनाराम पचार ने बताया कि सूचना मिली कि ब्लॉक सेक्टर 14 स्थित एक दुकानदार खाद्य सामग्री पर एमआरपी से ज्यादा राशी वसूल कर रहा हैं व ग्राहकों के साथ झगडा कर रहा हैं। इस पर थानाधिकारी के नेतृत्व में एक टीम ने लोकेश पुत्र गणेश लाल निवासी 27 के ब्लोक सेक्टर 14 गोवर्धनविलास को एमआरपी अधिक वसूलते करते हुए व ग्राहकों से झगडा करते हुए गिरफ्तार किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here