Sunday , 23 April 2017
Top Headlines:
Home » Udaipur » शेखावत मंच गद्गद्, कटारिया व्यथित दीखे

शेखावत मंच गद्गद्, कटारिया व्यथित दीखे

उदयपुर। शहर में रविवार को आयोजित नगर निगम के पूर्व पार्षदों के सम्मान समारोह के कार्यक्रम को लेकर भाजपा के कार्यवाहक जिलाध्यक्ष को सूचना तक नहीं थी और ना ही अधिकांश पदाधिकारियों को इस बारे में पता था। वहीं कार्यक्रम में आई कम भीड़ कटारिया को भी खटकी।
नगर निगम में रविवार को पूर्व पार्षदों का सम्मान समारोह कार्यक्रम आयोजित किया गया था। इसमें भाजपा के पूर्व के सभी चारों बोर्ड के पार्षदों को आमंत्रित किया गया था। इस कार्यक्रम में अतिथि के रूप में नगरीय विकास मंत्री श्रीचंद कृपलानी, उच्च शिक्षा मंत्री किरण माहेश्वरी, गृहमंत्री गुलाबचंद कटारिया के साथ स्थानीय जनप्रतिनिधि मौजूद थे। निगम के सभागार में आयोजित हुए इस कार्यक्रम में पिछले चार बोर्डों के 200 से अधिक पार्षदों मेें से मात्र आधे ही उपस्थित हुए थे। इसके साथ ही अधिकांश पूर्व पार्षदों ने इससे दूरी बनाए रखी थी।
हैरत की बात यह रही कि इस कार्यक्रम को लेकर भाजपा के कार्यवाहक जिलाध्यक्ष कुंतीलाल जैन तक को इस बारे में सूचना तक नहीं थी और उन्होंने इस कार्यक्रम से दूरी बनाएं रखी थी। हालंाकि वह अपने आप को शहर से बाहर होने का हवाला दे रहे थे। भाजपा की वर्तमान कार्यकाारिणी से अधिकांश पदाधिकारी भी इस कार्यक्रम से दूर रहे। इसके साथ ही मण्डल अध्यक्षों के साथ-साथ मण्डल के पदाधिकारी और कार्यकर्ता भी कम ही आए। इसके साथ ही गृहमंत्री गुलाबचंद कटारिया को भी कार्यकर्ताओं की कम भीड़ खटकी थी। इस मौके पर प्रदेश के सरकार मंत्रियों ने पार्षदों को शहर के विकास के साथ-साथ भाजपा की नींव बताया।
विप्लवी ने नहीं लिया कटारिया के हाथ से सम्मान
जानकारी के अनुसार सम्मान समारोह के दौरान कटारिया, माहेश्वरी और कृपलानी द्वारा पार्षदों का सम्मान किया जा रहा था। इसी दौरान पूर्व पार्षद विजय प्रकाश विप्लवी मंच पर गए और वहां पर कटारिया ने उन्हें शॉल ओढ़ाने का प्रयास किया तो विप्लवी ने साफ मना कर दिया और कहा कि भाईसाहब आप पहले ही बहुत सम्मान कर चुके है। उन्होंने माहेश्वरी और कृपलानी से ही सम्मान प्राप्त किया।
उदयपुर में मूर्ति किसकी लगे आप तय कर लो
जानकारी के अनुसार कार्यक्रम के दौरान जब शहर में भाजपा नेताओं के साथ-साथ पूर्व सभापतियों की मूर्ति लगाने की बारी आई तो नगरीय विकास मंत्री श्रीचंद कृपलानी ने मंत्री किरण माहेश्वरी और गुलाबचंद कटारिया को सम्बोधित करते हुए कहा कि आप दोनों ही तय कर लेना कि उदयपुर में किसकी प्रतिमा लगनी है। इस पर सभी हंसने लगे थे।भीड़ से मंच पदाधिकारी उत्साहित, देहात जिलाध्यक्ष भी गएउदयपुर। श्री भैरोसिंह शेखावत जागृति मंच की स्थापना के बाद रविवार को पहला होली मिलन और सम्मान समारोह के नाम से आयोजित कार्यक्रम में आई भीड़ से मंच के संस्थापकों के साथ-साथ कटारिया का विरोध कर रहे नेताओं में जोश भर गया। इस कार्यक्रम में वर्तमान संगठन और कटारिया से नाराज नेताओं ने भाग लिया और सैंकड़ों की संख्या में भाजपा कार्यकर्ताओं ने भाग लिया। इस समारोह में भारतीय जनता पार्टी ओर जनसंघ से जुडे वरिष्ठ सदस्यों ओर पूर्व पार्षदों का सम्मान किया गया। होली मिलन ओर सम्मान समारोह में भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने कटारिया का नाम लिये बिना कटारिया का जोरदार कटाक्ष किया। इस मौके पर सभी ने वर्तमान में उदयपुर भाजपा को लिमिटेड कम्पनी करार दिया। इस कार्यक्रम में भाजपा देहात अध्यक्ष गुणवंतसिंह झाला भी गए थे।
पूर्व उपराष्ट्रपति भैरोसिंह शेखावत के नाम से कटारिया से नाराज चल रहे भाजपा के ही वरिष्ठ नेताओं और पदाधिकारियों की ओर से श्री भैरोसिंह शेखावत जागृति मंच का गठन किया गया। मंच के गठन के बाद पहली बार आयोजित इस कार्यक्रम में कटारिया से नाराज चल रहे सभी नेताओं को बुलाया गया। इसके लिए बकायदा घर-घर और वार्ड में जाकर सम्पर्क किया गया और आमंत्रण पत्र भी दिया गया। कटारिया से नाराज चल रहे भाजपा के नेताओं और कार्यकर्ताओं को जब एक मंच मिला तो हुजूम उमड़ पड़ा और कार्यक्रम स्थल पर इतनी भीड़ हो गई कि मंच का गठन करने वाले पदाधिकारियों की खुशी का ठिकाना नहीं रहा। होली मिलन समारोह में राजस्थान सरकार की उच्च शिक्षा मंत्री किरण माहेश्वरी, मंच के अध्यक्ष शांतिलाल चपलोत, मुख्य समन्वयक मांगी लाल जोशी, मुख्य अतिथि भानुकुमार शास्त्री, अध्यक्ष तेजसिंह बांसी, हीरालाल कटारिया, बी.एन संस्थान के महेंद्र सिंह आगरिया, राजपूत सभा के अध्यक्ष बालूसिंह कानावत, भारतीय जनता पार्टी के देहात जिलाध्यक्ष गुणवंतसिंह झाला मौजूद थे।
समारोह में मंच की ओर से जनसंघ के जमाने से पार्टी से जुडे हुए भानुकुमार शास्त्री, जीवन सिंह दलाल और मदन लाल धुप्पड,100 वर्षीय जहूर चाचा, भूपेंद्र कोठारी का सम्मान किया गया। कार्यक्रम में पूर्व सांसद महावीर भगोरा, पूर्व विधायक वंदना मीणा, पूर्व प्रधान बंशीलाल कुम्हार, सुशील ओसतवाल, धर्मा मीना, सालिगराम खराडी, पूर्व उपसभापति बीरेन्द्र बापना, महेंद्र सिंह शेखावत, पूर्व पार्षद दिग्विजय श्रीमाली, ख्यालिलाल पामेचा, दिनेश माली, मनोहर सिंह पंवार, फ़तहनगर पालिका उपाध्यक्ष राजेश चपलोत उपस्थित थे ।
जनसंघ के जमाने से पार्टी से जुडे वरिष्ठ नेता भानु कुमार शास्त्री ने कहा कि एक जमाने में भाजपा का नाम लेने को कोई तैयार नही था ऐसे में जनसंघ से जुडे लोगों ने बडी मुश्किल से पार्टी को खडा किया है। शास्त्री ने यह भी कहा कि अब पाटी में वरिष्ठ कार्यकर्ताओं की पूछ नही है लेकिन पार्टी को तैयार करने में वरिष्ठ कार्यकर्ताओं का अहम योगदान रहा है। मंच के मुख्य समन्वयक मांगी लाल जोशी ने बताया कि उदयपुर में भारतीय जनता पार्टी एक व्यक्ति विशेष की होकर रह गयी है ओर पार्टी के वरिष्ठ कार्यकर्ताओं को दरकिनार कर दिया है। ऐसे में वरिष्ठ कार्यकर्ताओं ने मिलकर जनसंघ के जमाने के कार्यकर्ता ओर पूर्व उपराष्ट्रपति भैरोसिंह शेखावत के नाम से मंच का गठन किया गया है। इस अवसर पर मंच के ऐडवोकेट रोशन लाल जैन, किरण चंद्र लसोड, डॉ. विक्रम मेनारिया, गिरीश शर्मा, शंकरलाल मेघवाल, इक़बाल सक्का, ललित मेनारिया पदाधिकारी उपस्थित थे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*