Sunday , 30 April 2017
Top Headlines:
Home » Udaipur » उदयपुर सांसद ने पत्रकार वार्ता में बांटे नोट

उदयपुर सांसद ने पत्रकार वार्ता में बांटे नोट

उदयपुर। उदयपुर लोकसभा सांसद अर्जुनलाल मीणा ने बुधवार को केन्द्र सरकार की भ्रष्टाचार के खिलाफ चल रही मुहिम को उस समय ठेंगा बता दिया जब सांसद मीणा ने मोदी सरकार की योजनाओं को गिनाने के लिए आयोजित की गई पत्रकार वार्ता में पत्रकारों को लिफाफे में नकद राशि रखकर बांटने शुरू कर दिए। हालांकि इस दौरान कुछ पत्रकारों ने विरोध किया और बिना लिफाफा लिए ही चले गए। घटना के बाद सांसद मीणा के पास इस को लेकर जवाब नहीं था।
जानकारी के अनुसार प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भाजपा के सभी सांसदों को भाजपा के स्थापना दिवस 6 अप्रैल से 14 अप्रैल अम्बेडकर जयंति तक अपने-अपने लोकसभा क्षेत्र में बुद्धिजिवियों की बैठकें करके उन्हें मोदी सरकार की पिछले तीन वर्ष के कार्यकाल में चलाई गई योजनाओं को बताने का निर्देश दिया था। इसी को लेकर सांसद अर्जुनलाल मीणा की ओर से बुधवार को पत्रकार वार्ता का आयोजन किया गया था। इस पत्रकार वार्ता के दौरान सांसद अर्जुनलाल मीणा ने मोदी सरकार की ओर से आम जनता और गरीबों को लेकर चलाई जा रही योजनाओं को गिनाया गया था। पत्रकार वार्ता के दौरान सांसद मीणा ने 14 अप्रैल तक प्रधानमंत्री मोदी के निर्देश पर लोकसभा क्षेत्र में जाकर बुद्धिजिवियों से मिलने और सरकार की योजनाओं का फिड बैक लेने की जानकारी दी। इसके साथ ही पत्रकारों की ओर से पूछे गए सवालों का जवाब भी दिया था।
पत्रकार वार्ता के अंत में लोकसभा सांसद अर्जुनलाल मीणा ने सभी को खाने के पैकेट के साथ-साथ अपने नाम से छाप लगा हुआ एक लिफाफा भी दिया। जैसे ही लोगों ने इस लिफाफे को खोला तो अधिकांश तो हैरान रह गए। लिफाफे में 500 रूपए का नोट रखा हुआ और लिफाफे के बाहर सांसद अर्जुनलाल मीणा की छाप लग रही थी। जैसे ही कुछ पत्रकारों को इस बारे में पता चला तो अधिकांश इस लिफाफे को लेकर रवाना हो गए और कुछ पत्रकारों ने विरोध स्वरूप इस लिफाफे को पुन: लौटा दिया। पत्रकारों ने इस तरह से जब लिफाफे में नोट बांटने के बारे में पूछा तो सांसद मीणा जवाब नहीं दे पाए और हंसते हुए निकल गए। जहां एक ओर मोदी सरकार भ्रष्टाचार के खिलाफ अभियान चला रही है, वहीं दूसरी ओर उन्हीं के सांसद भ्रष्टाचार फैला रहे है।
जब योजनाएं गिनानी है तो सभी, बाकी चार पत्रकार
हाल में ही सांसद अर्जुनलाल मीणा नगर निगम के पार्षदों, उनके परिवार को, अपने समर्थकों और कुछ मीडियाकर्मियों को दिल्ली में संसद भवन दिखाने और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मिलाने के लिए लेकर गए थे। इस दौरान तो कुछ ही याद आए थे और जब केन्द्र सरकार की योजनाएं गिनाने का नम्बर आया तो सभी मीडियाकर्मी याद आ गए और व्यक्तिगत सूचना देकर बुलाया गया। इसका भी सभी में विरोध था।
अभी भी मना करते रहे और एक ने बोल दिया सच
पत्रकार वार्ता में भी में सांसद मीणा अर्जुनलाल मीणा केवल पार्षदों को ही दिल्ली ही ले जाने की बात कर रहे थे। बाद में एक समर्थक ने स्वीकार किया कि सांसद मीणा ने ही टिकट करवाए थे। यहां तक कि एक सरकारी कर्मचारी, मीडियाकर्मियों और अपने चेहते समर्थकों और पदाधिकारियों को भी सांसद ही लेकर गए थे। हालांकि सांसद के पास इसका भी जवाब नहीं था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*